Breaking News

WhatsApp एंड्रॉयड ऐप को जल्द मिल सकता है फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन!

WhatsApp इस्तेमाल करने वालों के मन में एक चिंता हमेशा बनी रहती है। कहीं कोई दूसरा शख्स उनके निजी चैट को ना पढ़ ले। जानकारी मिली है कि दुनिया के सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप पर फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन फीचर लाने की तैयारी है। इससे यूज़र के निजी चैट को प्रोटेक्शन मिलेगी। एक्टिव हो जाने के बाद यूज़र को हर बार ऐप खोलने के लिए ऑथेंटिकेशन की ज़रूरत होगी। हाल ही में फेसबुक की स्वामित्व वाली इस इस्टेंट मैसेजिंग सर्विस द्वारा आईफोन में भी इस फीचर को लाने की जानकारी सामने आई थी। iPhone में दोनों बायोमैट्रिक ऑथेंटिकेशन तरीका काम करेगा- फेस आईडी और टच आईडी। ऐसा प्रतीत होता है कि यह फीचर सिर्फ iPhone तक सीमित नहीं रहेगा। एंड्रॉयड यूज़र को फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन मिलेगा, लेकिन फेस रिकग्निशन नहीं।

WABetaInfo के मुताबिक, इस फीचर पर अभी काम चल रहा है। इसे व्हाट्सऐप एंड्रॉयड के बीटा ऐप 2.19.3 का हिस्सा बनाया गया है। यह फीचर डिफॉल्ट में डिसेबल होगा।

रिपोर्ट में कहा गया है, “आईओएस पर फेस आईडी और टचआईडी ऑथेंटिकेशन पर काम करने के साथ WhatsApp ने इस फीचर को एंड्रॉयड का हिस्सा बनाने की तैयारी कर ली है। इस प्लेटफॉर्म पर फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन उपलब्ध होगा।”
 

whatapp

फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन फीचर ऐप में Settings > Account > Privacy के अंदर मौज़ूद होगा।

फिंगरप्रिंट फीचर को एक्टिव हो जाने के बाद आपके WhatsApp को दूसरे शख्स के द्वारा देख पाना बेहद ही मुश्किल हो जाएगा। देखा जाए तो जो फोन पहले से फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन से प्रोटेक्टेड हैं। उनके लिए यह फीचर बहुत काम का नहीं लगता।

रिपोर्ट में कहा गया है,”यूज़र को व्हाट्सऐप खोलने (ऐप आइकन, नोटिफिकेशन और एक्सटर्नल पिकर्स से) के लिए अपनी पहचान देने होगी। यह पूरे ऐप को प्रोटेक्ट करेगा। इस फीचर को किसी खास चैट विंडो को प्रोटेक्ट करने के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा।”

रिपोर्ट में कहा गया है कि यह फीचर भविष्य में उन सभी एंड्रॉयड यूज़र के लिए उपलब्ध होगा जो एंड्रॉयड मार्शमैलो या उसके बाद के किसी भी एंड्रॉयड वर्ज़न का फोन इस्तेमाल करते हैं।

Source link