Breaking News

Most Powerful Passport: यह है 2021 में दुनिया का सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट, जानें लिस्ट में भारत का स्थान


कैसे तय की जाती है पासपोर्ट की ताकत

किसी भी देश के पासपोर्ट की ताकत या रैंकिंग इस आधार पर की जाती है कि उसके धारक बिना पूर्व वीजा के कितने देशों में सफर कर सकते हैं। इसका सीधा सा मतलब है कि कितने देश संबंधित देश के नागरिकों को अपने यहां वीजा ऑन एराइवल की सुविधा देते हैं। वीजा ऑन एराइवल अधिकतर मित्र देशों को दिया जाता है, जहां के नागरिकों से उस देश को कोई खतरा नहीं होता है। इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (IATA) इसका डेटा देती है।

जापान का पासपोर्ट दुनिया में सबसे ताकतवर

Henley & Partners की पासपोर्ट इंडेक्स ग्लोबल रैंकिंग 2021 में इस बार शीर्ष के तीन स्थान पर एशियाई देश ही काबिज हैं। इसमें पहले स्थान पर जापान है। जहां के नागरिकों को दुनिया के 191 देशों में वीजा ऑन एराइवल की सुविधा मिली हुई है। जापानियों को दुनिया के इन 191 देशों में जाने के लिए पहले वीजा मिलने का इंतजार नहीं करना होगा। जबकि दूसरे स्थान पर सिंगापुर है, जहां के नागरिकों को दुनिया के 190 देशों में वीजा फ्री एक्सेस की सुविधा मिली हुई है। दक्षिण कोरिया और जर्मनी संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर काबिज हैं। जिसमें दक्षिण कोरिया के नागरिकों को 189 देशों में वीजा ऑन एराइवल मिली हुई है।

शक्तिशाली पासपोर्ट की लिस्ट में भारत कहां

भारत का पासपोर्ट Henley पासपोर्ट इंडेक्स में 85वें स्थान पर है। दुनियाा के 58 देश भारतीय पासपोर्ट धारकों को बिना किसी पूर्व वीजा के प्रवेश की इजाजत देते हैं। इस स्थान पर भारत के साथ तजाकिस्तान है। साल 2020 में भारत का स्थान 84 था। तब भी दुनिया के 58 देश भारतीय नागरिकों को बिना वीजा के एंट्री देते थे।

अमेरिका को मिला सातवां स्थान

शक्तिशाली पासपोर्ट के मामले में अमेरिका 5 अन्य देशों के साथ सातवें स्थान पर काबिज है। इन देशों में बेल्जियम, न्यूजीलैंड, नार्वे, स्विटजरलैंड और यूनाइटेड किंगडम शामिल हैं। अमेरिका के नागरिकों को दुनिया के 185 देशों में वीजा फ्री एक्सेस की सुविधा मिली हुई है। अमेरिका के साथ इस स्थान पर काबिज अन्य पांच देशों को भी 185 देशों में ऐसी ही सुविधा प्राप्त है।

कहां हैं चीन और पाकिस्तान

पासपोर्ट इंडेक्स ग्लोबल ने चीन को इस लिस्ट में 70वें स्थान पर रखा है। चीन के नागरिकों को दुनिया के 75 देशों में बिना वीजा के प्रवेश की सुविधा मिली हुई है। बता दें कि चीन के ऊपर जासूसी करने के कई बड़े मामले दर्ज है। यही कारण है कि इतना रसूख रखने के बाद भी चीनी नागरिकों को दुनिया के कई देशों में वीजा मिलने में मुश्किल होती है। वहीं, इस लिस्ट में पाकिस्तान की हालत बेहद दयनीय है। दुनिया में आतंकवाद का सप्लायर पाकिस्तान इस सूची में नीचे से चौथे स्थान पर है। पाकिस्तान को 107वां स्थान दिया गया है। पाकिस्तानी नागरिकों को केवल 32 देशों में ही बिना वीजा के प्रवेश की सुविधा है।

यहां देखे टॉप 10 शक्तिशाली पासपोर्ट की सूची

-10-

1-जापान

2-सिंगापुर

3-जर्मनी, दक्षिण कोरिया

4-फिनलैंड, इटली, लग्जमबर्ग, स्पेन

5-ऑस्ट्रिया, डेनमार्क

6-फ्रांस, आयरलैंड, नीदरलैंड, पुर्तगाल, स्वीडन

7-बेल्जियम, न्यूजीलैंड, नार्वे, स्विटजरलैंड, यूनाइटेड किंगडम, यूनाइटेड स्टेट

8-ऑस्ट्रेलिया, चेक रिपब्लिक, ग्रीस, माल्टा

9-कनाडा

10-हंगरी



Source link